Top
Pradesh Jagran

पलानीस्वामी ने कहा- शशिकला का प्रण पूरा हुआ

पलानीस्वामी ने कहा- शशिकला का प्रण पूरा हुआ
X

news_1487419532_cm-palaniswami_465419134चेन्नई। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद शनिवार को ई के पलानीस्वामी ने शनिवार को राज्य विधानसभा में हंगामे के बीच विश्वास मत अर्जित कर लिया। उन्होंने 122 - 11 के अंतर से विश्वास मत अर्जित कर लिया। माना जा रहा है कि अब राज्य में राजनीतिक घमासान समाप्त हो जाएगा। दरअसल उनके मुकाबले पूर्व मुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेल्वम थे जो कि 11 विधायकों का समर्थन जुटा सके। उल्लेखनीय है कि पलानी स्वामी को एआईएडीएमके की महासचिव शशिकला का समर्थक माना जा रहा है। पलानीस्वामी ने कहा कि विधानसभा में उनकी सरकार के विश्वास मत जीतने के साथ ही अन्नाद्रमुक महासचिव वी के शशिकला की ओर से किया गया प्रण पूरा हुआ।

शशिकला को सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के बाद 4 वर्ष के कारावास की सजा सुनाई गई थी। शशिकला ने सर्वोच्च न्यायालय का निर्णय आने से पहले एआईएडीएमके के कुछ विधायकों का समर्थन प्राप्त होने के ही साथ सरकार बनाने का दावा किया था लेकिन एआईएडीएमके के ही दूसरे गुट के तौर पर ओ पन्नीरसेल्वम ने उनका विरोध किया था और स्वयं सरकार बनाने की बात कही थी। मगर बाद में शशिकला को जेल जाना पड़ा और पलानीसामी को एआईएडीएमके के एक गुट के विधायक दल का नेता चुन लिया गया।

उन्हें राज्यपाल ने सरकार बनाने के लिए निमंत्रित किया था। मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद शनिवार को उन्होंने विश्वास मत अर्जित किया हालांकि सदन में द्रमुक विधायकों की ओर से हमले के आरोप लगाने और हंगामे के चलते सदन को दो बार स्थगित कर दिया गया था। इसके बाद सदन की कार्रवाई फिर प्रारंभ होने को लेकर विधायकों ने मतदान किया। पलानीस्वामी द्वारा कहा गया कि विधानसभा में उनकी सरकार के विश्वास मत अर्जित करने के साथ एआईएडीएमके की सरकार सुचारू हुई।

Next Story
Share it