Top
Pradesh Jagran

नोटबंदी के बावजूद टैक्स भरने में उत्तराखंड रहा अव्वल

नोटबंदी के बावजूद टैक्स भरने में उत्तराखंड रहा अव्वल
X

tax_145672812140_650x425_022916121359नोटबंदी के बावजूद बीते वित्तीय वर्ष में सरकार का खजाना लबालब हो गया। वाणिज्य कर विभाग ने वित्तीय वर्ष में 17.3 प्रतिशत टैक्स कलेक्शन की बढ़ोतरी दर्ज की है जो कि बीते पांच साल में सर्वाधिक है। खास बात यह है कि हिमाचल सहित नौ अन्य राज्यों के मुकाबले भी टैक्स कलेक्शन में उत्तराखंड अव्वल साबित हुआ है।

वित्तीय वर्ष 2016-17 में वाणिज्य कर विभाग ने टैक्स कलेक्शन में रिकॉर्ड बनाया है। 2013 के बाद इस साल सबसे ज्यादा टैक्स कलेक्शन हुआ है। गत वर्ष जहां प्रदेशभर से 6096 करोड़ रुपये का वाणिज्य कर कलेक्ट हुआ था, इस साल यह आंकड़ा 1054 करोड़ बढ़कर 7150 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है।

वाणिज्य कर आयुक्त रणवीर सिंह चौहान के मुताबिक बीते पांच वर्षों में इस साल यह सर्वाधिक 17.3 प्रतिशत है। वाणिज्य कर अधिकारी यशपाल सिंह ने बताया कि इस साल का टैक्स कलेक्शन नौ अन्य राज्यों के मुकाबले भी सबसे अधिक है।

टैक्स कलेक्शन में बढ़ोतरी

बढ़ोतरी-

उत्तराखंड : 17.3

झारखंड : 16.8

छत्तीसगढ़ : 12.6

मध्य प्रदेश : 12

हिमाचल प्रदेश : 11

तमिलनाडु : 9.5

पश्चिमी बंगाल : 9

राजस्थान : 8.84

बिहार : 7.75

उड़ीसा : 4

पांच वित्तीय वर्षों में उत्तराखंड की रेवेन्यू बढ़ोतरी

2013 : 17 प्रतिशत

2014 : 14 प्रतिशत

2015 : 12 प्रतिशत

2016 : 12 प्रतिशत

2017 : 17 प्रतिशत

Next Story
Share it