Top
Pradesh Jagran

नोटबंदी के बाद BJP के इस दांवपेच से राजनीतिक गलियारों में आ जाएगा भूचाल....

नोटबंदी के बाद BJP के इस दांवपेच से राजनीतिक गलियारों में आ जाएगा भूचाल....
X

नोट बंदी का एक साल पूरे होने पर भाजपाइयों ने मंगलवार को पदयात्रा निकालकर जश्न मनाया। वहीं प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने इस दौरान खुलासा कर बताया कि अब बीजेपी का क्या प्लान है जिससे राजनीतिक गलियारों में भूचाल आ सकता है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एतिहासिक फैसले से देश में भ्रष्टाचार पर लगाम लग सकी है। उन्होंने कहा कि इसके बाद से कांग्रेस का काला धन तिजोरियों में ही सड़ा है। अब बेनामी संपत्तियों की जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

जिससे सारे काले चिट्ठे खुल जाएंगे। अजय भट्ट ने कहा कि नोट बंदी की सालगिरह पर भाजपा ने जश्न मना लिया है, अब जिसे काला दिवस मनाना है वो खुशी से मना सकता है। महानगर अध्यक्ष विनय गोयल के नेतृत्व में मंगलवार को देहरादून जिले के सभी विधायक और सैकड़ों कार्यकर्ता सुबह साढ़े दस बजे से गांधी पार्क में एकत्र होने लगे। 11 बजे तक कार्यकर्ताओं का हुजूम उमड़ गया।

नोट बंदी से कांग्रेस बौखलाई

कई कार्यकर्ता हाथों में भाजपा का झंडा और काला धन विरोधी बैनर लेकर पहुंचे थे। सवा ग्यारह बजे प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट, महानगर अध्यक्ष विनय गोयल समेत विधायकों की अगुवाई में पदयात्रा शुरू हुई।

यात्रा घंटाघर होकर पल्टन बाजार, कोतवाली, धामावाला, पीपल मंडी से राजा रोड होकर दर्शन लाल चौक से महानगर कार्यालय पहुंचकर संपन्न हुई। महानगर कार्यालय में पदयात्रा समापन से पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि नोट बंदी से कांग्रेस बौखलाई हुई है।

कांग्रेस का काला धन बर्बाद हो गया, तहखानों में रखे रुपयों को दीमक खा गई। उन्होंने कहा कि नोट बंदी के बाद साल भर में 23.22 लाख खातों में 3.68 लाख करोड़ की राशि जमा हुई है। 17.73 लाख संदिग्ध पैन कार्ड चिह्नित हुए हैं, जिनमें बैंकों से वित्तीय लेनदेन हुआ है, इनकी जांच अभी जारी है।

जाम में फंसी एंबुलेंस निकाली

अजय भट्ट ने कहा कि अभी भी 16 हजार करोड़ काला धन आना बाकी है, ऐसा अनुमान है यह काला धन कांग्रेस का है। इसलिए कांग्रेस बौखलाहट में नोट बंदी के विरोध में काला दिवस मनाने जा रही है। उन्होेंने कहा कि प्रधानमंत्री के एतिहासिक फैसले के समर्थन में भाजपा जश्न मना चुकी है।

यात्रा में उच्चशिक्षा राज्यमंत्री डॉ.धन सिंह रावत, विधायक हरबंश कपूर, विनोद चमोली और खजान दास, प्रदेश महामंत्री नरेश बंसल, उमेश अग्रवाल, राजेंद्र सिंह ढिल्लो, आदित्य चौहान, सुनील उनियाल, सीताराम भट्ट, हरीश डोरा, श्याम पंत, बृजलेश गुप्ता, विशाल गुप्ता, शमशेर सिंह पुंडीर समेत कई कार्यकर्ता मौजूद रहे। संचालन राजेंद्र सिंह ढिल्लो ने किया।

जाम में फंसी एंबुलेंस निकाली

पदयात्रा रूट पर वाहनों का आवागमन बंद किया गया था। इससे वाहन चालकों को परेशानी हुई। पदयात्रा के घंटाघर पहुंचने पर दर्शन लाल से आने वाले यातायात को बंद कर दिया गया, इसी बीच वहां एक एंबुलेंस फंस गई। हालांकि पदयात्रा में शामिल लोगों को हटाकर कार्यकर्ताओं ने एंबुलेंस निकलवा दी।

Next Story
Share it