Top
Pradesh Jagran

ज्योतिष महाकुंभ 2018 का शानदार आगाज, राज्यपाल ने किया शुभारंभ

ज्योतिष महाकुंभ 2018 का शानदार आगाज, राज्यपाल ने किया शुभारंभ
X

-ज्योतिषाचार्य पंडित सतीश शर्मा ने कहा कि, यह शुरुआत एक महान ज्योतिष क्रांति है। यह देश के अन्य देशों में भी फैले तो बड़ी क्रांति हो जाएगी। ज्योतिष को टेक्नीकली देखना चाहिए।

-ज्योतिषाचार्य ए के पद्मेश दुबे ने कहा कि, अमर उजाला का यह प्रयास सराहनीय है। इसके परिणाम कालदयी होंगे।

-राज्यपाल डा के के पॉल ने दीप प्रज्वलित कर शुभांरभ किया।

आपके शहर में पिछले दो वर्षों के सफल आयोजन की कड़ी में लगातार तीसरे वर्ष अमर उजाला-ग्राफिक एरा ज्योतिष महाकुंभ के आगाज की घड़ी आ गई है।

आज सुबह 10 बजे राज्यपाल डॉ. केके पाल दीप प्रज्ज्वलित कर ज्योतिष महाकुंभ का शुभारंभ करेंगे। उद्घाटन सत्र के बाद ज्योतिषियों के बीच संवाद होगा। अगले दिन यानी रविवार को सुबह 10 से चार बजे शाम तक आप अपनी जन्मतिथि, जन्मस्थान, कुंडली और हथेली दिखाकर ज्योतिषियों से अपना भविष्य जान सकेंगे।

ग्राफिक एरा विवि के सभागार में आज शनिवार को ज्योतिष महाकुंभ में ज्योतिष विद्या के महान ज्ञानी डॉ. केएन राव को ज्योतिष के क्षेत्र में उनके अभूतपूर्व योगदान के लिए ‘ज्योतिष पितामह’ सम्मान से नवाजा जाएगा। स्वास्थ्य संबंधी कारणों से यदि वे नहीं आ सके तो यह सम्मान उनके प्रतिनिधि प्राप्त करेंगे।

वास्तु के क्षेत्र में विशिष्ट योगदान के लिए जयपुर के प्रख्यात वास्तुविद पं. सतीश शर्मा को लाइफ टाइम अचीवेंट सम्मान से नवाजा जाएगा। इस दौरान उनकी पुस्तक ‘खगोलशास्त्र और पौराणिक अवधारणाएं’ का विमोचन भी होगा। इसके बाद महाकुंभ में ज्योतिषियों के बीच ग्राफिक एरा सभागार में संवाद भी होंगे।

इसमें आमजन को पहले आओ-पहले पाओ आधार पर स्थान मिलेगा। अंतिम दिन दो अप्रैल को जीएमएस रोड स्थित होटल सैफ्रॉन लीफ में देशभर के ज्योतिषियों को उनके योगदान एवं कार्यों के लिए सम्मान प्रदान किया जाएगा। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत होंगे।

Next Story
Share it