Top
Pradesh Jagran

जीत हाथ से फिसलने के बाद नेतृत्व पर सवाल उठा रहे कांग्रेस नेता

जीत हाथ से फिसलने के बाद नेतृत्व पर सवाल उठा रहे कांग्रेस नेता
X

digvijaya-singh-in-goa_58c791c32ec5cपणजी। गोवा विधानसभा चुनाव के बाद भारतीय जनता पार्टी राज्य में सरकार बनाने की ओर अग्रसर हो गई है। मनोहर पर्रिकर को यहां पर मुख्यमंत्री बनाए जाने की कवायद भाजपा ने तेज कर दी और विभिन्न क्षेत्रीय दलों के साथ मिलकर सरकार बनाने की ओर भाजपा अग्रसर हुई है। ऐसे में कांग्रेस हाथ से फिसल रही जीत पर मंथन करने में लगी है। कांग्रेस नेताओं द्वारा नेतृत्व को जवाबदार मना जा रहा है। इस मामले में कांग्रेस विधायक विश्वजीत राणे ने कहा है कि इसे कांग्रेस नेतृत्व की असफलता ही कहा जाना चाहिए।

उनका कहना था कि कांग्रेस ने 17 सीटें जीतीं लेकिन इसके बाद भी सरकार नहीं बना सकी। कांग्रेस नेता ने कहा कि कांग्रेस ने सरकार बनाने में उत्साह नहीं दिखाया। इस कारण भाजपा 13 सीट होने के बाद भी सरकार बनाने की ओर आगे बढ़ी।

गौरतलब है कि 13 सीटें जीतने के बाद भी भाजपा ने सहयोगियों के समर्थन से सरकार बनाने और बहुमत मिलने का दावा राज्यपाल को पेश किया। हालांकि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव दिग्विजय सिंह ने कहा कि राज्यपाल को नियम का पालन करना होगा और जो पार्टी सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर सामने आई है उसे सरकार बनाने के लिए निमंत्रित करना चाहिए।

Next Story
Share it