Top
Pradesh Jagran

चुनाव आयोग को कोर्ट में खीचने की धमकी, फैसले को बताया ‘गैरकानूनी, असंवैधानिक और गलत’

चुनाव आयोग को कोर्ट में खीचने की धमकी, फैसले को बताया ‘गैरकानूनी, असंवैधानिक और गलत’
X

नई दिल्ली। विधानसभा चुनाव को लेकर पैसे लेने की बात कहने वाले अरविन्द केजरीवाल ने चुनाव आयोग के फैसले को संविधान के विरूद्ध बताया। साथ ही चुनाव आयोग को धमकी देते हुए कोर्ट में खीचने की भी बात कही है। बता दें आचार संहिता का उल्लंघन करने के बाद अरविंद केजरीवाल को चुनाव आयोग ने तगड़ी फटकार लगाई थी। आगे से गलती न दोहराने की हिदायत दी थी। चुनाव आयोग ने भाविष्य में गलती दोहराए जाने पर आम आदमी पार्टी की मान्यता रद्द करने की भी बात कही थी।चुनाव-आयोग-को-धमकी

उन्होंने चुनाव आयोग की तरफ से पार्टी की मान्यता रद्द करने की चेतावनी के फैसले को ‘गैरकानूनी, असंवैधानिक और गलत’ करार दिया है।

केजरीवाल ने गोवा में भाषण के दौरान वोट के लिए नोट लेने की अपील लोगों से की थी। इस मामले में चुनाव आयोग ने आचार संहिता का उल्लंघन मानते हुए उन्हें कड़ी फटकार लगाई थी।

साथ ही चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर भविष्य में चुनाव आचार संहिता उल्लंघन पाया गया तो उनके और उनकी पार्टी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

आयोग ने इतना तक कह दिया है कि ऐसी स्थिति में आम आदमी पार्टी की मान्यता को निलंबित या खत्म भी की जा सकती है।

हालांकि, चुनाव आयोग की फटकार के बाद केजरीवाल ने कहा कि वो आगे से भाषणों के दौरान ऐसा बयान नहीं देंगे। लेकिन ट्वीट कर आयोग की फटकार पर आपत्ति जताई।

आयोग ने कहा, ‘आप यह भी ध्यान रखें कि अगर भविष्य में चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन होता है तो आयोग इलेक्शन सिंबल्स (रिजर्वेशन ऐंड अलॉटमेंट) ऑर्डर ऐक्ट के पैरा 16 के तहत आपके और आपकी पार्टी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगा।’

पैरा-16 के तहत चुनाव आयोग को आचार संहिता के उल्लंघन की दशा में किसी पार्टी की मान्यता को खत्म या निलंबित करने का अधिकार है।

Next Story
Share it