Top
Pradesh Jagran

एशिया-प्रशांत मुक्त व्यापार की वार्ता में अच्छी प्रगति : चीन

एशिया-प्रशांत मुक्त व्यापार की वार्ता में अच्छी प्रगति : चीन
X

बीजिग| चीन के व्यापार मंत्री ने मंगलवार को कहा कि अमेरिका द्वारा पिछले महीने ट्रांस पैसिफिक पार्टनरशिप (टीपीपी) समझौता से हाथ खींचने के बाद प्रस्तावित एशिया-प्रशांत मुक्त व्यापार समझौते पर वार्ता में अच्छी तरह से प्रगति हो रही है। गाओ हुचेंग ने बीजिंग में एक प्रेस वार्ता में कहा कि क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक भागीदारी स्थापित करने के लिए (जिसमें एशिया-प्रशांत क्षेत्र से 16 देशों को शामिल किया जाएगा) वार्ता काफी सही तरीके से चल रही है और उन्होंने उम्मीद जताया कि कुछ चुनौतियों के समाधान के साथ ही यह वार्ता जल्द पूरी हो जाएगी।china-300x211

उन्होंने कहा, “वैश्वीकरण, समस्या नहीं है। बल्कि समस्या यह है कि कैसे वैश्वीकरण के लाभों को वितरित किया जाए।”

गाओ ने कहा कि कोई भी देश पूर्व वैश्वीकरण के युग को वापस नहीं ला सकता।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प चीन से आयातित उत्पादों पर शुल्क लगाने की धमकी दी है, और गाओ ने कहा कि बीजिंग इस प्रकार के कदमों का सावधानी से अध्ययन करेगा और उसके बाद उचित रुख अपनाएगा।

अटकलें हैं कि दुनिया की सबसे बड़ी वैश्विक अर्थव्यवस्थाओं में एक कारोबारी युद्ध छिड़ सकता है। इसे खारिज करते हुए उन्होंने कहा, “सहयोग से दोनों को लाभ है, जबकि टकराव केवल चोट पहुंचाते हैं।”

आरसीईपी, एक मुक्त व्यापार पहल है, जिसे चीन समर्थन दे रहा है। इसे टीपीपी के विकल्प के रूप में लाया जा रहा है। इसमें आसियान देशों के दस सदस्यों के अलावा आस्ट्रेलिया, दक्षिण कोरिया, भारत, जापान और न्यूजीलैंड शामिल है।

Next Story
Share it