Friday , July 30 2021
Breaking News

एक करोड़ रुपए के लिए सगी बहनों ने अपने पिता को उतारा मौत के घाट

उ.प्र.के आगरा की दो बहनों ने एक करोड़ रुपए के लिए अपने पिता का मर्डर कर दिया। एक बहन पेशे से वकील है तो दूसरी टीचर। दोनों ने बॉयफ्रेंड के साथ मिलकर अपने पिता को मारने की साजिश रची थी। पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर लिया है। 

images पुलिस के मुताबिक, 24 साल की ज्योति कुशवाहा ने 26 साल की बहन चांदनी कुशवाहा और अपने कारपेंटर बॉयफ्रेंड सर्वेश शर्मा के साथ मिलकर 30 अक्टूबर को 65 वर्षीय मथुरा प्रसाद कुशवाहा को मौत के घाट उतार दिया। मथुरा प्रसाद उस वक्त अपने कमरे में दिवाली पूजा की तैयार कर रहे थे।

स्टेशन ऑफिसर राजा सिंह के मुताबिक, तीनों ने पहले मथुरा प्रसाद को गोली मारने का प्लान बनाया था। इसके लिए ज्योति ने देशी पिस्तौल का बंदोबस्त कर, उसे बॉयफ्रेंड सर्वेश शर्मा को सौंप दिया। वारदात के दिन जैसे ही कुशवाहा अपने बेडरूम में घुसे, सर्वेश ने उन पर दो गोलियां चला दी, लेकिन दोनों ही गोलियां कुशवाहा को नहीं लगी। इसके बाद तीनों एक साथ आए और कुशवाहा पर चाकू से वार कर उन्हें मार डाला।
राजा सिंह के मुताबिक, इसी साल जनवरी महीने में ज्योति ने अपने पिता की मर्जी के खिलाफ जाकर सर्वेश शर्मा से मंदिर में शादी की थी। जिस दिन से दोनों बेटियों को यह पता लगा कि एक प्रॉपर्टी बेचने से कुशवाहा को एक करोड़ रुपए मिले हैं, उसी दिन से दोनों बेटियां इस पैसे में हिस्सा मांगने लगीं। कुशवाहा ने दोनों को एक फूटी कौड़ी देने से भी इनकार कर दिया था।
अपने पिता के रवैए से बौखलाई दोनों बहनों ने कुशवाहा को मारने की योजना बनाई। राजा सिंह के मुताबिक, तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया है और उन पर IPC की धारा 302 (हत्या) के तहत केस दर्ज किया गया है।
पुलिस के मुताबिक, सर्वेश शर्मा राजस्थान के अलवर जिले में कारपेंटर के तौर पर काम करता है। वह 29 अक्टूबर को ज्योति के बुलाने पर आगरा आया था। ज्योति अपने पिता के स्कूल में टीचर है। वहीं चांदनी पेशे से वकील है और जिला न्यायालय में प्रैक्टिस करती है।
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *