Top
Pradesh Jagran

उत्तराखण्ड: हरीश रावत ने लोकतंत्र के बारे में कहा- कठिन दौर से गुजर रहा...

उत्तराखण्ड: हरीश रावत ने लोकतंत्र के बारे में कहा- कठिन दौर से गुजर रहा...
X

विकासनगर, देहरादून: गुरुवार को पछवादून के विकासनगर दौरे पर आए पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने भाजपा की केंद्र व प्रदेश सरकार पर जमकर हमला बोला। यहां तिलक भवन में मीडिया से रूबरू होते हुए उन्होंने कहा कि देश में लोकतंत्र कठिन दौर से गुजर रहा है। केंद्र की भाजपा सरकार लोकतांत्रिक व संवैधानिक संस्थाओं के अधिकारों का हनन कर रही है। इन संस्थाओं की स्वायत्तता समाप्त करने की कोशिश की जा रही है। यहां तक कि लोकसभा व राज्यसभा भी खतरे में है। देश के इतिहास में पहली बार विपक्ष को अविश्वास प्रस्ताव पारित करने की इजाजत नहीं दी गई। जबकि सच्चाई यह है कि केंद्र सरकार के सहयोगी दलों ने ही संसद चलने नहीं दी। विपक्षी दल अविश्वास प्रस्ताव के जरिए जनता के गुस्से को संसद में रखना चाहते थे। कहा कि 29 अप्रैल को कांग्रेस दिल्ली में ऐतिहासिक रैली के माध्यम से लोकतंत्र बचाओ मुहिम की शुरुआत करेगी।

पूर्व सीएम ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया कि साजिश के तहत बैंङ्क्षकग प्रणाली को संकट में डाल दिया गया है। एटीएम व बैंकों में करेंसी की कमी कर दी गई है। जबकि देश में भ्रष्टाचार चरम सीमा पर है। रक्षा सौदों में भ्रष्टाचार हुआ है और अब अमेरिका के साथ किए जा रहे रक्षा सौदे में भी भ्रष्टाचार की बू आने लगी है। देश में साजिश के तहत सांप्रदायिक तनाव पैदा किया जा रहा है, जिससे सनातन धर्म का मूल व सोच ही खतरे में पड़ गई है। प्रदेश सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि यहां भी संवैधानिक संकट पैदा हो गया है।

निकाय चुनावों को लेकर इतिहास में पहली बार चुनाव आयोग ने हाईकोर्ट में दस्तक दी है। बावजूद इसके प्रदेश सरकार चुनाव टालने की कोशिश में लगी हुई है। कहा कि जिस भी मंत्री की लापरवाही से निकाय चुनाव पर संकट मंडराया है, उसे मंत्रिमंडल से बाहर कर दिया जाना चाहिए, वरना कुछ दिन बाद भाजपा वाले ही मुख्यमंत्री को बाहर करने की मांग करने लगेंगे। आबकारी नीति पर सरकार को घेरते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार चुनिंदा कंपनियों को लाभ पहुंचाने के लिए ई-टेंडरिंग कर रही है। शराब माफिया को फायदा पहुंचाने के लिए प्रदेश सरकार ने कई एनएच को राज्य मार्ग घोषित कर दिया है।

किसानों की दशा पर बोलते हुए पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि राज्य में बने गेहूं खरीद केंद्र ठीक से काम नहीं कर रहे हैं। भाजपा के हिंदुत्व को ढोंग बताते हुए कहा कि केदारनाथ में भगवान शिव का लेजर शो नहीं दिखाया जाना चाहिए। वहां शिव जीवांश के रूप में विद्यमान हैं, उन्हें प्रतीकात्मक नहीं दिखाया जाना चाहिए। इससे धार्मिक भावनाएं आहत होंगी। इस दौरान प्रदेश कांग्रेस महामंत्री संजय जैन, वरिष्ठ नेता आकिल अहमद, जिलाध्यक्ष यामीन अंसारी, पूर्व पालिकाध्यक्ष नीरज अग्रवाल, सभासद शम्मी प्रकाश, संजय किशोर महेंद्रू, असद आरफी, प्रेमप्रकाश अग्रवाल, राजीव शर्मा, मुनीर अहमद, अंकुर वर्मा, सुभाष चंबेल आदि मौजूद रहे।

Next Story
Share it