Top
Pradesh Jagran

उत्तराखण्ड में 100 करोड़ रुपये के निवेश की घोषणा

उत्तराखण्ड में 100 करोड़ रुपये के निवेश की घोषणा
X

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि स्टार्टअप नीति का उद्देश्य युवा उद्यमियों को बढ़ावा देना है. मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने सोमवार को मुख्यमंत्री आवास में एमएसएमई विभाग और भारत सरकार के ‘इन्वेस्ट इण्डिया’ द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में ‘स्टार्टअप वैन’ को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया. कार्यक्रम में प्रसिद्ध स्टार्टअप इंक्यूबेटर कम्पनी वेंचर कैटालिस्ट के ‘को-फाउण्डर’ अपूर्व शर्मा ने उत्तराखण्ड में स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए 100 करोड़ रुपये के निवेश की घोषणा भी की.

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि स्टार्टअप नीति का उद्देश्य युवा उद्यमियों को बढ़ावा देना है. उत्तराखण्ड का युवा रोजगार मांगने के स्थान पर रोजगार देने वाला बने. युवा उद्यमी स्टार्टअप के ज़रिए कई युवाओं को रोजगार प्रदान कर सकते हैं. उत्तराखण्ड में प्राकृतिक संसाधनों से संबंधित स्टार्टअप की प्रबल सम्भावनाएं है.

प्रदेश में लगभग 58 प्रतिशत आबादी युवाओं की हैं. राज्य सरकार उद्योगों के लिये अच्छा माहौल उपलब्ध कराने हेतु संकल्पित है. ईज़ ऑफ डूइंग बिजनेस में प्रदेश अभी 6वें स्थान पर है और इसकी रैंकिंग में सुधार आने की उम्मीद है. मुख्यमंत्री ने स्टार्टअप वैन को एक अच्छी शुरूआत बताया. उन्होंने कहा कि सिर्फ नीति की जानकारी देने के स्थान पर भावी उद्यमियों की रुचि के अनुसार उन्हें चिन्हित कर उनके आइडिया/स्टार्टअप योजना का नियमित फालोअप करने की भी ज़रूरत है.

Next Story
Share it