Top
Pradesh Jagran

उत्तराखंड को फिल्म फ्रैंडली एनवायरमेंट के लिए मिला नेशनल अवॉर्ड

उत्तराखंड को फिल्म फ्रैंडली एनवायरमेंट के लिए मिला नेशनल अवॉर्ड
X

फिल्मों की शूटिंग के लिए बेहतर माहौल बनाने के मामले में उत्तराखंड को राष्ट्रीय पुरस्कार दिया गया है। बृहस्पतिवार को दिल्ली में केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी एवं केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण राज्य मंत्री कर्नल राज्यवर्धन राठौर के हाथों राज्य की ओर से यह पुरस्कार महानिदेशक सूचना डॉ. पंकज पांडेय ने लिया। सूचना प्रसारण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा द मोस्ट फिल्म फ्रैंडली स्टेट अवार्ड के अंतर्गत उत्तराखंड को यह सम्मान मिला।

सचिव एवं महानिदेशक सूचना तथा उत्तराखंड फिल्म विकास परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. पंकज कुमार पांडेय ने कहा कि उत्तराखंड राज्य को यह पुरस्कार मिलने से प्रदेश में फिल्मों की शूटिंग को और अधिक प्रोत्साहन मिलेगा। देश-विदेश के फिल्म निर्माता राज्य में अधिक से अधिक संख्या में आएंगे। डॉ. पांडेय ने कहा कि मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत उत्तराखंड फिल्म विकास परिषद के अध्यक्ष भी हैं और उनके मार्गदर्शन में प्रदेश की फिल्म नीति को और अधिक आकर्षक बनाया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की स्पष्ट सोच है कि राज्य में फिल्म निर्माण क्षेत्र को प्रोत्साहित किया जाए, जिससे राज्य में अधिक से अधिक फिल्म निर्माता आएं और स्थानीय स्तर पर रोजगार के अवसर बढ़ें। डॉ. पांडेय ने बताया कि परिषद के माध्यम से फिल्म निर्माताओं को अधिक से अधिक सुविधा मिले, इसके लिए पूरे प्रयास किये गए हैं।

मुख्यमंत्री की घोषणा के क्रम में प्रदेश में निर्मित होने वाली फिल्मों की शूटिंग में शुल्क को समाप्त किया गया है। इससे प्रदेश में फिल्मांकन के प्रति फिल्म निर्माताओं एवं निर्देशकों का रुझान बढ़ा है।

उन्होंने कहा कि उत्तराखंड फिल्म विकास परिषद इस दिशा में आगे बढ़ रही है। एफटीआई पुणे के सहयोग से परिषद द्वारा आगामी जून एवं जुलाई-2018 में स्थानीय युवाओं के लिए आकर्षक सर्टिफिकेट कोर्स शुरू कराए जा रहे हैं।

राज्य में कई भौगोलिक चुनौतियों के बावजूद भी उत्तराखंड राज्य सरकार द्वारा किए गए सकारात्मक प्रयासों की सराहना राष्ट्रीय स्तर पर की गई है। प्रतिवर्ष दिए जाने वाले इस पुरस्कार के लिए सभी राज्यों से आवेदन आमंत्रित किए जाते हैं, जिसके बाद पुरस्कार चयन हेतु गठित समिति द्वारा पुरस्कार के लिए राज्यों का चयन किया जाता है।

डॉ. पांडेय ने कहा कि राष्ट्रीय स्तर के इस पुरस्कार के लिए उत्तराखंड का चयन हम सभी के लिए गौरव की बात है। इस अवसर पर उत्तराखंड फिल्म विकास परिषद के नोडल अधिकारी के.एस चौहान भी उपस्थित रहे।

Next Story
Share it