Top
Pradesh Jagran

अल्पसंख्यकों के लिए दो एकेडमी खोलेगी रावत सरकार

अल्पसंख्यकों के लिए दो एकेडमी खोलेगी रावत सरकार
X

harish-rawat-1024x823-1देहरादून : अल्पसंख्यकों का कल्याण राज्य सरकार का दायित्व है। इसके लिए कई अहम कदम उठाए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री हरीश रावत ने यह बात रविवार को विश्व अल्पसंख्यक अधिकार दिवस पर दून में हुए आयोजित कार्यक्रम में कही। इससे पूर्व हरिद्वार में इसी दिवस पर हुए कार्यक्रम को वीडियो कांफ्रेंसिंग से संबोधित करते हुए उन्होंने प्रदेश में अल्पसंख्यकों के लिए दो एकेडमी खोलने की घोषणा की है। राज्य अल्पसंख्यक आयोग की ओर से न्यू कैंट रोड स्थित सीएम आवास में कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘मेरे बुजुर्ग मेरे तीर्थ’ योजना में अजमेर शरीफ व हेमकुंट साहिब को भी शामिल किया जाएगा। साथ ही गुरू गोविंद सिंह जी का प्रकाश पर्व राज्यभर में आयोजित होगा और एक पार्क में उनके नाम की प्रतिमा स्थापित होगी।

सीएम ने कहा, मदरसों को आधुनिक व तकनीकी शिक्षा से जोड़ा जा रहा है। क्रिश्चयन समुदाय के पुराने कॉलेज व स्कूलों को मदद दी जाएगी। सीएम ने कहा कि एमएसडीपी के तहत 90 करोड़ की योजना बनाकर केंद्र को भेजी गई है। पंजाबी व उर्दू अकादमी का गठन जल्द कर लिया जाएगा। अधिकारियों को कब्रिस्तानों की भूमि पर कब्जे न होने देने के निर्देश दिए गए हैं। राज्य अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष नरेंद्रजीत सिंह ¨बद्रा ने कहा कि इस साल आयोग को मिली 77 शिकायतों में से 56 का निस्तारण कर दिया गया है। सभी विभागों को 15} बजट अल्पसंख्यकों पर खर्च करने को कहा गया है।इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री प्रीतम सिंह, मेयर विनोद चमोली, राज्य महिला आयोग अध्यक्ष सरोजनी कैंतुरा, सतीश जॉन, डीजीपी एमए गणपति, सचिव भूपेंदर कौर औलख सहित अनेक अधिकारी मौजूद थे।

Next Story
Share it