Top
Pradesh Jagran

अभी अभी : बाबा केदारनाथ के दर्शन करने 20 अक्टूबर को जाएंगे PM मोदी, जनसभा को भी करेंगे संबोधित

अभी अभी : बाबा केदारनाथ के दर्शन करने 20 अक्टूबर को जाएंगे PM मोदी, जनसभा को भी करेंगे संबोधित
X

शिवभक्त कहे जाने वाले देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी छह माह बाद एक बार फिर से बाबा केदार के कपाट बंद होने के अवसर पर दर्शन के लिए केदारनाथ पहुंच रहे हैं. पर इस बार पीएम मोदी बाबा केदारनाथ के दर्शन के अलावा केदारपुरी में एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे, जिसकी तैयारियां जोरों पर हैं. इस जनसभा को सफल बनाने के लिए पूरा सरकारी अमला भी केदरनाथ में डेरा डाले हुए है.

पीएम मोदी 20 अक्टूबर को सुबह आठ बजे दिल्ली से देहरादून के जॉलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचेंगे, जहां से वो MI-17 हेलिकॉप्टर से सीधे बाबा केदार के धाम जाएंगे. बाबा केदार के दर्शन करने के बाद वह नई केदारपुरी को नए अंदाज में विकसित करने को लेकर कई योजनाओं का अनावरण करेंगे. इसके बाद पीएम मोदी 10:40 बजे पर केदारनाथ में ही एक जनसभा को संबोधित करेंगे और फिर 11:40 बजे जॉलीग्रांट से दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे.

पीएम के दौरे को लेकर तैयारियों में जुटा प्रशासन

पीएम मोदी के दौरे को लेकर प्रशासन के अलावा बीजेपी भी तैयारी में जुटी हुई है. बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने खुद तैयारियों का जायजा लिया है. वहीं, उत्तराखंड सरकार में प्रोटोकॉल मंत्री होने के नाते धन सिंह रावत ने तैयारियों की कमान अपने हाथ में ले रखी है. अजय भट्ट की माने तो पीएम मोदी की इस जनसभा में करीब 5,000 आमजन और श्रद्धालु शामिल लेंगे, जिनके रहने और खाने की पूरी व्यवस्था केदारनाथ में की जा चुकी है.

साल 2013 में केदारनाथ में बाढ़ ने मचाई थी तबाही

साल 2013 में केदारनाथ में बाढ़ ने भीषण तबाही मचाई थी. उस समय उत्तराखंड में कांग्रेस की सरकार थी और विजय बहुगुणा मुख्यमंत्री थे. इस तबाह के बाद मोदी केदारपुरी को अपने तरीके से विकसित करना चाहते थे, लेकिन तत्कालीन मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा ने उनके प्रस्ताव को ठुकरा दिया था.

शायद यही वजह है कि अब से छह माह पहले जब प्रधानमंत्री केदारनाथ गए थे, तो बर्बादी के निशान अपनी आंखों से देखने के बाद वो एक नई केदारपुरी को बनाने का मन बनाकर लौटे थे. अब जब कपाट बंद होने के वक्त वो जा रहे हैं, तो दर्शन के साथ ही नई केदारपुरी के शिलान्यास का काम भी पूरा करेंगे.

केदारनाथ का पुनर्निर्माण करना चाहते हैं पीएम मोदी

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का भी यही मानना है कि साल 2013 की प्राकृतिक आपदा के बाद पीएम मोदी केदारनाथ के पुनर्निर्माण का काम करना चाहते थे, लेकिन तत्कालीन मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा के नेतृत्व वाली प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने इसकी इजाजत नहीं दी.

रावत का कहना है कि शायद यही वो यादें हैं, जो पीएम मोदी को केदारनाथ लायी हैं. अब केदारपुरी को देश के प्रतिष्ठित वास्तु शास्त्री द्वारा नए सिरे से तैयार किया जाएगा. केदारनाथ से सभी हिंदुओं का लगाव है और यही लगाव मोदी को भी है.

Next Story
Share it