Home / देश जागरण / जब पीएम मोदी ने लालकिले से दिया था रिकार्ड 92 मिनट का भाषण, लोगों ने की शिकायत

जब पीएम मोदी ने लालकिले से दिया था रिकार्ड 92 मिनट का भाषण, लोगों ने की शिकायत

Loading...

नई दिल्ली: देश बुधवार (15 अगस्त) को अपना 72वां स्वतंत्रता दिवस मनाने जा रहा है। प्रत्येक वर्ष की तरह इस बार भी प्रधानमंत्री लालकिले के प्राचीर से देश को संम्बोधित करते हैं। पीएम के तौर पर नरेंद्र मोदी अपने इस कार्यकाल में अंतिम बार राष्ट्र को सम्बोधित करेंगे। अपने अंतिम स्वतंत्रता दिवस संबोधन को ख़ास बनाने के लिए पीएम मोदी ने एक नई पहल की है। दरअसल, मोदी ने आम लोगों के दिलों तक पहुंचने व भाषण को प्रेरणात्मक बनाने के लिए अपनी स्पीच के विषयों को चुनने का मौका जनता को दिया है। उन्होंने नमो ऐप के माध्यम से जनता से राय मांगी है। जिस पर करीब 14,300 लोगों ने उन्हें अलग-अलग विषयों पर बोलने को कहा है। लेकिन पीएम आज जनता के कितने विषयों को अपने भाषण में शामिल करेंगे यह देखने दिलचस्प होगा। हालांकि मोदी के नाम लालकिले से सबसे लंबा भाषण देने का रिकार्ड जुड़ा हुआ है। लेकिन उनके लंबे भाषण की कई लोगों ने शिकायत की थी, इसका ज़िक्र खुद पीएम अपने एक कार्यक्रम में किया था।

मोदी ने दिया था रिकार्ड भाषण, लोग हुए थे परेशान

दरअसल, प्रधानमंत्री ने साल 2016 में अपने रिकार्ड भाषण के दौरान 94 मिनट तक देश को सम्बोधित किया। इस लम्बे भाषण ने कई लोगों को परेशान किया था, और उन्होंने पीएम को इसकी शिकायत भी की थी, जिसका जिक्र मोदी ने खुद अपने कार्यक्रम ‘मन की बात’ में की थी। कार्यक्रम में मोदी ने कहा था कि अब वह अपने भाषण को छोटा रखेंगे। इसके बाद साल 2017 में उन्होंने 56 मिनट का भाषण दिया था। गौरतलब हो कि प्रधानमंत्री मोदी ने कार्यकाल का पहला (2014) स्वतंत्रता दिवस भाषण 65 मिनट का दिया था, जबकि 2017 में उन्होंने 86 मिनट तक राष्ट्र को सम्बोधित किया था।

पूर्व पीएम नेहरु के नाम दर्ज था सबसे लम्बे भाषण का रिकार्ड

मोदी के पहले देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरु ने लालकिले से सबसे लंबा भाषण दिया था। उन्होंने 15 अगस्त 1947 को 72 मिनट तक राष्ट्र को सम्बोधित किया था। पीएम मोदी ने यह रिकार्ड 2015 में 86 मिनट लेकर तोड़ा। वहीं साल 2016 में 94 मिनट तक भाषम देकर मोदी ने खुद का रिकार्ड तोड़ा। अब लालकिले से सर्वाधिक समय के भाषण का रिकार्ड मोदी के नाम दर्ज है।

50 मिनट से अधिक नहीं बोले मनमोहन सिंह

मनमोहन सिंह ने अपने दस साल के पीएम कार्यकाल के दौरान स्वतंत्रता दिवस पर कभी 50 मिनट से अधिक भाषण नहीं दिया। हालांकि साल 2005 और 2006 में उनका सम्बोधन 32 से 45 मिनट के बीच ही रहा। वहीं भाजपा की ओर से पहले प्रधानमंत्री बनने वाल अटल बिहारी वाजपेयी के भाषण 30 से 35 मिनट के ही रहते थे। साल 2002 में वह महज 25 मिनट ही बोले थे। वहीं 2003 में उन्होंने लालकिले से 30 मिनट का भाषण दिया था।

=>
loading...

Check Also

RSS में चली लाठियां, भागवत को मिला नोटिस, जानें क्या है पूरा माजरा?

Loading... नई दिल्ली। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के एक कार्यक्रम में लाठियों के साथ प्रदर्शन …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com