Home / अध्यात्म / आज का पंचांग: जानिए मंगलवार का शुभ मुहूर्त और राहुकाल!

आज का पंचांग: जानिए मंगलवार का शुभ मुहूर्त और राहुकाल!

Loading...

हिन्दू पंचांग के अनुसार आज का दिन कैसा रहेगा। कौन सा शुभ योगा बन रहा है और क्या है राहुकाल। तिथि विशेष और शुभाशुभ मुहूर्त क्या है, जानिए आज के पंचांग…

* पञ्चाङ्ग*मंगलवार, ११ सितंबर २०१८*                                                                                                                      ======================

सूर्योदय: 06:08
सूर्यास्त: 06:27
चन्द्रोदय: 07:23
चन्द्रास्त: 19:50
अयन दक्षिणायन (उत्तरगोले)
ऋतु: 🌳शरद
शक सम्वत: 1940 (विलम्बी)
विक्रम सम्वत: 2075 (विरोधकृत)
युगाब्द 5120
मास भाद्रपद
पक्ष: शुक्ल
तिथि: द्वितीया (18:05 तक)
नक्षत्र: हस्त (26:07 तक)
योग: शुभ (07:47 तक)
क्षय योग: शुक्ल
प्रथम करण: बालव
द्वितीय करण: कौलव
क्षय करण: तैतिल

*गोचर ग्रह*                                                                                                                                                                                                                       =======

सूर्य- सिंह
चंद्र- कन्या
मंगल- मकर
बुध- सिंह (मार्गी)
गुरु- तुला
शुक्र- तुला
शनि- धनु
राहु- कर्क
केतु- मकर

*शुभाशुभ मुहूर्त विचार*
===============

अभिजित मुहूर्त: 11:48 – 12:37
अमृत काल: 20:29 – 21:58
होमाहुति: सूर्य
अग्निवास: पाताल (18:04 से पृथ्वी)
दिशा शूल: उत्तर
नक्षत्र शूल:
चन्द्र वास: दक्षिण
दुर्मुहूर्त: 08:30 – 09:20
राहुकाल: 15:18 – 16:51
राहु काल वास: पश्चिम
यमगण्ड: 09:08 – 10:40

*चौघड़िया विचार*
==============

॥ दिन का चौघड़िया ॥
1 – रोग 2 – उद्वेग
3- चर 4 – लाभ
5 – अमृत 6 – काल
7 – शुभ 8 – रोग
॥ रात्रि का चौघड़िया ॥
1 – काल 2 – लाभ
3 – उद्वेग 4 – शुभ
5 – अमृत 6 – चर
7 – रोग 8 – काल
नोट– दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है।

*शुभ यात्रा दिशा*
===========

दक्षिण-पूर्व (धनिया अथवा दलिया का सेवन कर यात्रा करें)

*तिथि विशेष*
========

चंद्रदर्शन आदि।

*आज जन्मे शिशुओं का नामकरण*
====================

Loading...

आज २६:०७ तक जन्मे शिशुओ का नाम हस्त प्रथम, द्वितीय, तृतीय, चतुर्थ चरण अनुसार क्रमशः (पू, ष, ण, ठ) तथा इसके बाद जन्मे शिशुओं का नाम चित्रा प्रथम चरण अनुसार (पे) नामाक्षर से रखना शास्त्र सम्मत है।

Loading...

Check Also

चन्‍द्रग्रहण के समय क्या करे और क्या न करे, यहां पढ़े…

इस साल का पहला चंद्र ग्रहण 21 जनवरी को होने वाला है। जो कि भारतीय …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com