Home / प्रदेश जागरण / उत्तर प्रदेश / दुधवा जंगल में पटरी के किनारे मिला बाघ का शव

दुधवा जंगल में पटरी के किनारे मिला बाघ का शव

देव श्रीवास्तव/लखीमपुर-खीरी।
दुधवा जंगल में रेलवे पटरी के किनारे रविवार की सुबह एक बाघ का शव बरामद हुआ। सूचना पर पहुंचे वन अधिकारियों ने आपसी संघर्ष के दौरान बाघ की मौत होने की बात कही है। हालांकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही सही मामला सामने आ सकेगा।

काला कुंडा वाटर होल के पास मिला शव

मिली जानकारी के अनुसार पलिया कलां स्थित दुधवा नेशनल पार्क की दुधवा रेंज मे रेलवे लाईन के किनारे काला कुंडा वाटर होल के पास एक बाघ का शव रविवार  सुबह लगभग 8:45 बजे बरामद हुआ है। यह सूचना रेल कर्मचारियो के माध्यम से वन अधिकारियों को मिली थी। सूचना प्राप्त होते ही फील्ड डायरेक्टर दुधवा प्रमुख सचिव वन के साथ मौके पर पहुंचकर टाइगर के शव का निरीक्षण किया। निरीक्षन मे मृत बाघ के सभी अंग सुरक्षित पाये गये। इस नर बाघ का आयु लगभग 10 साल का है। बाघ शव का मौके पर परीक्षण में पाया गया कि सर पर और आंख में चोट का निशान है। पिछले पैर का एक नाखून टूटा पाया गया। अगले पैर में नाखून भी फटा हुआ पाया गया। घटना स्थल पर अन्य टाइगर और हाथी के पग मार्क भी मिले। प्रथम दृष्टि से प्रतीत होता है कि इस बाघ का किसी अन्य बाघ के साथ आपसी संघर्ष से मृत्यू हुई है। परंतु पूर्ण रूप से इसकी पुष्टि पोस्ट मार्टम के उपरांत ही होगी। अन्य सबूतों हेतू डॉग स्क्वॉड क्युनो को भी लगाया गया है। संघर्ष में शामिल अन्य बाघ का पुस्टी हेतू कैमरा ट्राप भी लगाया गया है। पोस्ट मार्टम कल सुबह 8 बजे पलिया मुख्यालय पर होगा। इसके लिए डाक्टरों का पैनल गठित किया गया है। पोस्टमार्टम के उपरांत विस्तृत रिपोर्ट प्रेषित की जायेगी।
Loading...

Check Also

नीम करोली बाबा के बुलेटप्रूफ चमत्कारी कंबल की अनसुनी कहानी

नीम करोली बाबा का समाधि स्थल नैनीताल के पास पंतनगर में है। नीम करोली बाबा …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com