Breaking News
Home / Top news / सोने की कीमत ने तोड़ा 6 साल का रिकॉर्ड, जानिए क्या है आज का भाव

सोने की कीमत ने तोड़ा 6 साल का रिकॉर्ड, जानिए क्या है आज का भाव

नई दिल्ली: सोने की कीमतों में लगातार पांचवें सप्ताह तेजी जारी रही। स्थानीय आभूषण विक्रेताओं की सतत त्योहारी और शादी विवाह की मांग बढऩे से बीते सप्ताह दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना करीब छह वर्ष के उच्चतम स्तर 32,625 रुपए तक चढऩे के बाद अंत में 32,550 रुपए प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ।

दूसरी ओर छिटपुट लिवाली और बिकवाली के बीच चांदी की कीमतें सप्ताहांत में 39,600 रुपए प्रति किलो पर लगभग अपरिर्वितत रुख के साथ बंद हुईं। बाजार सूत्रों ने कहा कि डॉलर के कमजोर होने से विदेशों में सोना करीब तीन माह के उच्चतम स्तर पर जा पहुंचा और विदेशी बाजारों में मजबूती का रुख कायम हो गया।

कारोबारी धारणा में आई तेजी

Loading...

इसके अलावा शेयर बाजार की गिरावट के कारण कारोबारी धारणा में तेजी आई। इसके अलावा रुपए के कमजोर होने से आयात महंगा हो जाने से भी सोने की तेजी को बल मिला। शेयर बाजार की गिरावट को देखते हुए निवेशकों के निवेश का प्रवाह सर्राफा बाजार की ओर होने से भी सोने को करीब छह साल के उच्च स्तर को छूने में मदद मिली।

वैश्विक स्तर पर न्यूयार्क में सोना पिछले सप्ताहांत के 1,227.50 डॉलर के मुकाबले सप्ताहांत में 1,233.80 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुआ जबकि चांदी की कीमत भी पहले के 14.68 डॉलर के मुकाबले तेजी के साथ 14.76 डॉलर प्रति औंस हो गई।

राष्ट्रीय राजधानी में आभूषण कारोबारियों की कमजोर मांग की वजह से 99.9 और 99.5 प्रतिशत शुद्धता वाले सोने की क्रमश: 32,220 रुपये और 32,070 रुपये प्रति 10 ग्राम पर कमजोर शुरूआत हुई। बाद में त्योहारी और शादी विवाह की मांग के कारण ये कीमतें करीब छह वर्ष के उच्चतम स्तर क्रमश: 32,625 रुपए और 32,475 रुपए प्रति 10 ग्राम तक चढ़ गईं.

Loading...

सप्ताहांत में ऊंचे स्तर पर आभूषण विक्रेताओं और फुटकर कारोबारियों की मांग में आई भारी गिरावट से ये कीमतें क्रमश: 280-280 रुपए की तेजी दर्शाती क्रमश: 32,550 रुपए और 32,400 रुपए प्रति 10 ग्राम पर बंद हुई। ये कीमतें पिछले सप्ताहांत क्रमश: 32,270 रुपए और 32,120 रुपए प्रति 10 ग्राम थीं।

Loading...

Check Also

PNR को लेकर रेलवे ने बदला नियम, 1 अप्रैल से मिलेगा फायदा

नई दिल्ली। आप एक यात्रा के दौरान एक के बाद दूसरी ट्रेन पकड़ते हैं और …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com