Home / PJ एक्सक्लूसिव / प्रवासी जागरण / फिर एक पूत कपूत बन गया मार दिया अपनी मां और बहन को

फिर एक पूत कपूत बन गया मार दिया अपनी मां और बहन को

Loading...

इंदिरानगर सेक्टर नौ में लखनऊ विश्वविद्यालय में विधि संकाय के प्रोफेसर रहे डॉ. कैलाशनाथ कश्यप के बेटे रवि ने प्रॉपर्टी के लिए पहले अपनी मां व फिर बहन की चाकू और पेचकस से गोदकर हत्या कर दी। आरोपी ने दो दिन तक शवों को घर में छिपाए रखा। बदबू आने पर रविवार को किराए के डाले पर शव लादकर उसे जलाने के लिए चंद्रिका देवी के जंगल में ले जा रहा था। संदेह होने पर डाला चालक ने पुलिस को फोन कर सूचना दी। इसके बाद बीकेटी पुलिस ने रवि को दबोच लिया।

Loading...

क्या है पूरा मामला 

19/996 इंदिरानगर निवासी तारावती (65) अपनी बेटी अनामिका उर्फ मधु (35) एवं बेटे रवि के साथ रहती थीं। सीओ गाजीपुर दिनेश कुमार पुरी के मुताबिक शुक्रवार दोपहर करीब तीन बजे रवि ने तारावती की हत्या कर दी। इसके बाद शव को कमरे में छिपा दिया। रवि की बहन मधु किसी काम से बाहर गई थी। वापस लौटने पर मधु ने रवि से मां के बारे में पूछा। रवि के टालमटोल करने पर दोनों में विवाद हो गया।

इसके बाद दोनों में हाथापाई होने लगी। खुद को बचाने के लिए मधु ने रवि के हाथ पर दांत से काटा, लेकिन वह उसके चंगुल से बच न सकी। पुलिस के मुताबिक रवि ने चाकू व पास में रखे पेचकस से मधु पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया। इससे मौके पर ही मधु की मौत हो गई।

मां व बहन की हत्या के बाद आरोपी ने आंगन में बिखरा खून साफ किया और शवों को ठिकाने लगाने के प्रयास में जुट गया। सीओ गाजीपुर के मुताबिक रवि का उसकी मां व बहन से विवाद चल रहा था। जांच में पता चला है कि प्रॉपर्टी को लेकर आरोपी की तारावती व मधु से अनबन थी, जिसके कारण उसने हत्या की है।

हत्या से पहले उसने मां को बेहोशी की दवा सुंघाई थी

पोस्टमार्टम हाउस से बुक किया वाहन: डालीगंज निवासी डाला चालक सोनू के मुताबिक रवि ने रविवार सुबह उससे संपर्क किया था। रवि ने सोनू से कहा कि उसके दोस्त दिनेश सिंह का घर संडीला में है। उसके घर में दो लोगों की मौत हो गई है। शवों को गांव लेकर जाना है। इसके भाड़ा तय कर सोनू अपने साथियों के साथ रवि के घर पहुंचा। सोनू पोस्टमार्टम हाउस से शवों को भाड़े पर ले जाने का काम करता है, जहां से रवि ने किराए पर डाला तय किया था। सोनू के साथ उसके साथी डालीगंज निवासी छोटू, अब्दुल करीम, रहीम, ओमप्रकाश गुप्ता और शनि भी मौजूद थे।

पेट्रोल देख ड्राइवर सोनू को हुआ शक, पुलिस को दी सूचना: आरोपी ने वाहन में प्लास्टिक के दो कैन में पेट्रोल रखा था। पेट्रोल देख चालक सोनू को संदेह हुआ। चंद्रिका देवी रोड पर रवि ने वाहन जंगल की तरफ मोड़ने को कहा। सोनू को गड़बड़ी की आशंका हुई। इसके बाद उसने देवरई गांव के पास पान मसाला लेने के बहाने वाहन रोक दिया और दुकान पर पहुंच यूपी 100 को सूचना दी। सोनू ने पुलिस को बताया कि उसकी गाड़ी में दो शव रखे हैं। आशंका है कि दोनों की हत्या की गई है। इसके बाद एमसीआर वाहन पर तैनात दारोगा वेद प्रकाश साथी पुलिसकर्मियों के साथ पहुंचे और रवि को हिरासत में ले लिया।

=>
loading...

Check Also

यहां खूबसूरत लड़कियां लड़कों के लिए तरसती हैं, वजह उड़ा देती होश…

Loading... Loading... एक ऐसा गांव हैं जहाँ पर लड़कियां लड़कों के लिए तरसती हैं. जी …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com