गबन मामले में बैंक प्रबंधक पर लटकी तलवार

पूर्वांचल बैंक सोनवानी शाखा में नोटबंदी के बाद बैंक में जमा हुए पुराने नोट जिला मुख्यालय न भेजने की गड़बड़ी का मामला सामने आया है। जिसके तहत जोनल गोरखपुर की टीम शनिवार को जांच करने के लिए शाखा पर पहुंच थी। मंगलवार को भी टीम के सदस्यों ने कई बिंदुओं पर जांच की तथा फाइलों को खंगाला। इस दौरान कैश शाखा न भेजने के बारे में पूछताछ की। इस प्रकरण में बैंक शाखा के प्रबंधक व अधिकारियों की भूमिका संदिग्ध मानी जा रही है। 2000-rupees_1482156533

जिस पर पूर्वांचल बैंक के अफसरों ने शाखा प्रबंधक के मोबाइल पर कॉल किया। फिर भी उनका मोबाइल नंबर नहीं उठा। जिसके अधिकारियों ने एक वाहन को गार्ड तथा अन्य बैंक कर्मियों के साथ पैसा लाने के लिए शाखा पर रवाना कर दिया। जहां पर बैंक पर ताला लटकता मिला। 31 दिसंबर को इस प्रकरण की सूचना चेयरमैन पूर्वांचल बैंक को दी गई।

इसके बाद वहां से जांच टीम बैंक शाखा पर पहुंच गई। जांच टीम ने बैंक का मुख्य गेट बंद कराकर शाखा के एक-एक फाइल तथा लेनदेन सहित कैश को दो जनवरी की देर रात तक खंगाला। इस दौरान उपभोक्ताओं को बैंक बंद रहने से दिक्कतों का सामना करना पड़ा। फिलहाल बलिया से अधिकारियों ने सोनवानी शाखा पर कार्य के लिए एक अस्थाई प्रबंधक और कैशियर को भेजा है, जो जांच में सहयोग तथा बैंकिंग कार्य का निष्पादन कर रहे हैं। जांच के लिए पहुंची टीम इस प्रकरण में कुछ भी बताने से इंकार करते रहे। 

 
 
=>
loading...

You May Also Like