अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा- रूस,चीन दुनिया पर हमारे असर की बराबरी नहीं कर सकते

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने बुधवार को अपना विदाई भाषण दिया। इस दौरान वह भावुक भी हुए। शिकागो में दिये गये भाषण में उन्होंने कहा, ‘आने वाले 10 दिनों में अमेरिका सत्ता परिवर्तन का गवाह बनेगा, मुझे खुशी है कि सबकुछ शांतिपूर्ण ढंग से हो रहा है।’ ओबामा ने अपने पॉप्युलर स्लोगन ‘यस वी कैन’ से अपना भाषण खत्म किया।

बराक ओबामा भावुक भी हुए। यह देख उनकी बेटी और पत्नी मिशेल की आंखों में आंसू आ गए। ओबामा ने कहा कि वे अपने परिवार की वजह से अच्छे राष्ट्रपति बन सके।

20 जनवरी 2017 को ओबामा का व्हाइट हाउस में आखिरी दिन होगा। वह लगातार दो बार अमेरिका के राष्ट्रपति रहे हैं। हाल ही में हुए राष्ट्रपति चुनाव में रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप ने जीत दर्ज की है। ओबामा के बाद ट्रंप राष्ट्रपति की जिम्मेदारी संभालेंगे। डेमोक्रैट्स की ओर से हिलेरी क्लिंटन राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार थीं।

64-us_5

ओबामा के भाषण की 10 खास बातें-

1. ओबामा ने कहा, घर आकर अच्छा लग रहा है। उन्होंने कहा, ‘बदलाव तभी होता है जब आम आदमी इससे जुड़ता है। आम आदमी ही बदलाव लाता है। हर रोज मैंने लोगों से कुछ न कुछ सीखा।’

2. इस दौरान ओबामा ने अपने प्रतिद्वंदी को भी आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा, ‘रूस और चीन दुनिया पर हमारे असर की बराबरी नहीं कर सकते जब तक की हम नहीं चाहें।’

3. ओबामा ने कहा, ‘मुस्लिम अमेरिकियों से भेदभाव के खिलाफ हैं।’ उन्होंने कहा कि आइएस को हम पूरी तरह से बर्बाद कर देंगे, अमेरिका हमेशा सुरक्षित रहेगा। हमने ओसामा बिन लादेन समेत, हजारों आतंकियों का खात्मा किया है। ओबामा ने कहा कि पिछले 8 सालों में एक भी विदेशी आतंकी हमला नहीं हुआ।

4. ओबामा ने कहा, ‘आने वाले 10 दिनों में अमेरिका सत्ता परिवर्तन का गवाह बनेगा, मुझे खुशी है कि सबकुछ शांतिपूर्ण ढंग से हो रहा है।’ उन्होंने कहा, ‘मैंने ट्रंप से वादा किया है कि सत्ता का हस्तांतरण बिना किसी बाधा के होगा।’

5. नस्लवाद को लेकर ओबामा ने कहा, ‘नस्लों का मामला अमेरिकी समाज में मौजूद है। जो समाज में विघटन का काम कर रही हैं। 10, 20 या 30 साल पहले नस्लों को लेकर जो समस्या होती थीं, वो आज के दौर में कम हुई हैं।’

6. ओबामा ने अपने विदाई भाषण में पत्नी, बेटी का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा, ‘मिशेल न सिर्फ मेरी पत्नी और मेरे बच्चों की मां हैं बल्कि मेरी अच्छी दोस्त भी हैं।’ उन्होंने अपनी बेटियों मालिया और साशा से कहा कि वे दयालु और अद्भुत हैं। ओबामा ने भाषण की शुरुआत में कहा, ‘मैं और मिशेल आपकी शुभकामानाओं से काफी भावुक हैं।’

7. ओबामा ने कहा, ‘अगर कोई हमारे समाज के किसी तबके को अलग-थलग करने की कोशिश करता है तो हमें उसकी हर कोशिश को नाकाम करना चाहिए।’

8. ओबामा ने कहा, ‘प्रजातंत्र की बुनियादी विशेषता एकता होती है। हम गिरते हैं फिर उठते हैं, और लोकतंत्र अपनी चाल से चलता रहता है।’ उन्होंने कहा कि लोकतंत्र के लिए काम करना हमेशा से मुश्किल रहा है।

9. ओबामा ने कहा, ‘व्यापार में केवल खुलापन ही नहीं होना चाहिए बल्कि वह न्यायसंगत भी होना चाहिए।’ उन्होंने कहा कि जो बिडेन आप मेरी पहली पसंद थे और ये फैसला बिल्कुल सही था।

10. ओबामा ने कहा, ‘अगर हम अप्रवासियों के बच्चों में निवेश नहीं करेंगे तो हम अपने बच्चों का भविष्य खराब करेंगे।’ उन्होंने कहा, ‘हम सबके लिए मौके उपलब्ध नहीं कराएंगे तो भविष्य में दिक्कत ही पैदा होंगी।’

=>
loading...

You May Also Like