अभी-अभी: चीन ने दिया बड़ा बयान, कहा- डोकलाम विवाद का शांतिपूर्ण हल एक बड़ी उपलब्धि

चीन में इन दिनों कम्युनिस्ट पार्टी की कांग्रेस चल रही है। जिसमें शी जिनपिंग को एक बार फिर चीन के राष्ट्रपति के पद की कमान सौंपी जाएगी। इस मौके पर पीपुल्स लिबरेशन आर्मी ने भारत के साथ हुए डोकलाम विवाद के हल पर संतुष्टि जाहिर की है और इसे अपनी बेहतरीन उपलब्धि बताया है। 
10 हफ्तों तक चले इस विवाद पर पीएलए का कहना है कि यह विवाद सुरक्षित रूप से हल हो गया। रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोलते हुए चीनी अधिकारी लियू फेंग ने कहा कि भारतीय सैनिकों ने चीनी सीमा में प्रवेश किया था। चीनी रक्षा और विदेश मंत्रालय समेत सभी मंत्रालयों के इस विवाद को निपटाने के लिए बेहतरीन काम किया। उन्होंने कहा कि हम सभी पांच सालों में एक बार एक साथ होते हैं। जहां हम अपने नेता का चुनाव करते हैं। उन्होंने कहा कि हमने चीन की स्थिति को मजबूती से सामने रखा। सभी के सहयोग से यह विवाद शांति से सुलझ गया। चीन अपनी ताकत बढ़ा रहा है, ऐसे में वह न केवल बड़े देशों में दोस्ती कर रहा है बल्कि अपने पड़ोसियों से भी मित्रता कर रहा है। 

गौरतलब है कि 16 जून को भूटान के क्षेत्र में चीनी सैनिकों द्वारा सड़क निर्माण को लेकर यह विवाद शुरू हुआ था। जिसे दोनों देशों ने पिछले महीने ब्रिक्स सम्मेलन से पहले सुलक्षा लिया था। इसके साथ ही लियू फेंग ने सीपीसी की कांग्रेस में राष्ट्रपति शी जिनपिंग के भाषण की सराहना भी की।

फेंग ने कहा कि हम कई तरह की बातचीत कर रहे हैं और बहुत से देशों के साथ हमारी बातचीत सही ट्रैक पर है। उन्होंने कहा कि हम किसी एक बिंदु पर काम नहीं कर रहे हैं बल्कि हम सभी बिंदुओं को एक साथ लाने में लगे हुए हैं। हम आपसी सहयोग का एक जाल बना रहे हैं। 

=>
loading...

You May Also Like