अग्नि 5 मिसाइल : अब चीन और पाकिस्तान नहीं, यूरोप भी निशाने पर

agni5_180412gभारत ने आज लम्बी दूरी वाली अग्नि 5 मिसाइल का परीक्षण किया। यह मिसाइल सिर्फ चीन या पाकिस्तान नहीं, बल्कि यूरोप तक मार कर सकती हैं। परमाणु क्षमता से लैस बैलिस्टिक मिसाइल ‘अग्नि 5’ का ओड़िशा तट से दूर एपीजे अब्दुल कलाम द्वीप (व्हीलर आइलैंड) से सोमवार को परीक्षण किया। स्वदेश में निर्मित यह मिसाइल सतह से सतह तक मार करने में भी सक्षम है। भारत अग्नि 6 मिसाइल भी विकसित कर रहा है। पनडुब्बी से छोड़े जाने में सक्षम इस मिसाइल की रेंज 8 से 10 हजार किलोमीटर हो सकती है।

अग्नि 5 मिसाइल की खूबियां

1. अग्नि 5 मिसाइल 5000 किलोमीटर से अधिक दूरी तक के लक्ष्य को भेदने में सक्षम है। यह एक टन से अधिक वजन के परमाणु आयुध को ढोने में सक्षम है यानी इससे न केवल पाकिस्तान या चीन बल्कि यूरोप तक निशाना लगाया जा सकता है।

2. ‘अग्नि-5’ सर्वाधिक आधुनिक मिसाइल है। नैविगेशन और मार्गदर्शन के मामले में इसमें कुछ नई प्रौद्योगिकियों को शामिल किया गया है।

3. भारत के मिसाइल टेक्नोलॉजी कंट्रोल रिजीम से जुड़ने के बाद यह अग्नि 5 मिसाइल का पहला परीक्षण होगा। यह रिजीम 35 देशों का समूह है जो परमाणु हथियारों के लिए डिलीवरी सिस्टम के विस्तार पर निगरानी रखता है।

4. अग्नि 5 मिसाइल का परीक्षण एक कैनिस्टर से किया जाएगा, जिससे इसके सभी प्रकार के मौसम और स्थिति मोबाइल लॉन्च की क्षमता रहेगी।

5. अग्नि 5 मिसाइल 17 मीटर लंबा, दो मीटर चौड़ा है और इसका प्रक्षेपण भार तकरीबन 50 टन है। यह फायर एंड फॉरेगट सिस्टम पर काम करता है. इसके पथ को पकड़ पाना मुश्किल है।

6. लंबी दूरी तक मार करने में सक्षम मिसाइल का यह चौथा विकासात्मक और दूसरा कैनिस्टराइज्ड परीक्षण होगा। पहला परीक्षण 19 अप्रैल 2012 को किया गया था, जबकि दूसरा परीक्षण 15 सितंबर 2013, तीसरा परीक्षण 31 दिसंबर 2015 को इसे ठिकाने से किया गया था।

7. 5000 किलो मीटर की मारक क्षमता की मिसाइल रखने वाला अमेरिका, रूस, चीन, फ्रांस और ब्रिटेन के बाद भारत पांचवां देश होगा।

8. अग्नि 1 की रेंज 700 किलोमीटर, अग्नि 2 2000 किलोमीटर रेंज, अग्नि 3 और अग्नि 4 की रेंज 2500 किलोमीटर से 3500 किलोमीटर तक है।

9. भारत के पास फिलहाल अग्नि 1, अग्नि 2, अग्नि 3, अग्नि 4 मिसाइल सिस्टम हैं और ब्रह्मोस जैसी सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल भी हैं।

 
=>
loading...

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *